Home » फरवरी तक राजस्व घाटा पुनरीक्षित बजट अनुमान के 134.2 प्रतिशत पर पहुंचा

फरवरी तक राजस्व घाटा पुनरीक्षित बजट अनुमान के 134.2 प्रतिशत पर पहुंचा

by Business Remedies
0 comment

 

नई दिल्ली। राजस्व संग्रह में आई सुस्ती के कारण चालू वित्त वर्ष में देश का राजस्व घाटा फरवरी तक पूरे वर्ष के पुनरीक्षित बजट अनुमान के 134.2 प्रतिशत पर पहुंच गया है। सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार चालू वित्त वर्ष में अप्रैल से फरवरी तक राजस्व घाटा 8.52 लाख करोड़ रुपए रहा है जबकि पुनरीक्षित बजट अनुमान 6.34 लाख करोड़ रुपए है।

फरवरी तक सरकार की कुल प्राप्तियां 13,37,340 करोड़ रुपए रहा है जो चालू वित्त वर्ष के पुनरीक्षित बजट अनुमान का 73.37 प्रतिशत है। इसमें केन्द्र सरकार की शुद्ध राजस्व प्राप्तियां 10,93,923 करोड़ रुपए रही है। इसमें 1,75,755 करोड़ रुपए गैर-कर राजस्व और 71,662 करोड़ रुपए गैर ऋण पूंजी प्राप्तियां हैं जिसमें ऋण की वसूली से 15,042 करोड़ रुपए और पीएसयू में विनिवेश से 56,620 करोड़ रुपए शामिल हैं। केन्द्र ने राज्यों की हिस्सेदारी के रूप में 5,96,667 करोड़ रुपए हस्तांतरित किए हैं।

अप्रैल से फरवरी के दौरान सरकार का कुल व्यय 21,88,839 करोड़ रुपए रहा है जो पुनरीक्षित बजट अनुमान का 89.08 प्रतिशत है। इसमें 19,15,303 करोड़ रुपए राजस्व खाते से और 2,73,536 करोड़ रुपए पूंजी खाते से व्यय हुए हैं। ब्याज के रूप में 5,01,160 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है तथा 2,63,868 करोड़ रुपए सबसिडी में दिया गया है।

You may also like

Leave a Comment

Voice of Trade and Development

Copyright @ Singhvi publication Pvt Ltd. | All right reserved – Developed by IJS INFOTECH