Home » एसबीआई फाउंडेशन ने की एसबीआई ग्राम सेवा शुरू

एसबीआई फाउंडेशन ने की एसबीआई ग्राम सेवा शुरू

by admin@bremedies
0 comment

एसबीआई चेयरपर्सन अरुंधती भट्टाचार्य ने की सीएसआर पहल की शुरुआत

मुंबई/एजेंसी- भारतीय स्टेट बैंक ने अपनी एकीकृत सीएसआर पहल एसबीआई ग्राम सेवा की शुरुआत की। एसबीआई चेयरपर्सन अरुंधति भट्टाचार्य ने एसबीआई फाउंडेशन के इस पहल की शुरूआत की। इस पहल का उद्देश्य 2021 तक भारत के करीब 500 गांवों को कवर करते हुए 100 ग्राम पंचायतों तक पहुंचना है।
एसबीआई फाउंडेशन गैर सरकारी संगठनों व एनपीओ के के साथ मिल कर भारतीय स्टेट बैंक के सीएसआर को क्रियांवित करने के लिए एसबीआई-ग्राम सेवा को बढ़ावा देगा। इस दृष्टिकोण के साथ एसबीआई फाउंडेशन ने भारत की ग्राम पंचायत के माध्यम से गांवों को गोद ले कर विकसित करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। यहां पर संपूर्ण सीएसआर गतिविधि को लागू किया जाएगा जिसमें समग्र विकास पर केन्द्रित बैंक सेवाएं भी होंगी।
एसबीआई ग्राम सेवा के अंतर्गत स्वास्थ्य, शिक्षा, पर्यावरण, महिला सशक्तीकरण, आजीविका, कौशल विकास, और बुनियादी ढांचे को विकसित करने जैसे काम किए जाएंगे। एकीकृत समुदाय विकास केलिए एसबीआई रणनीति के तहत विभिन्न प्रकार की गतिविधियों और कार्यक्रमों के माध्यम से ग्राम डिजिटलीकरण पर ध्यन केंद्रित किया जाएगा। इस रणनीति का उद्देश्य एसबीआई फाउंडेशन द्वारा केंद्रित लक्ष्यों के लिए केंद्रित कार्यान्वयन मॉडल अपनाना है. एसबीआई फाउंडेशन पहले से ही एसबीआई यूथ फॉर इंडिया फेलोशिप, सेंटर ऑफ एक्सीलेंस एसबीआई कार्यक्रम चला रहा है। फाउंडेशन के तहत एसबीआई ग्राम सेवा को एक और प्रमुख परियोजना के रूप में लागू करने का प्रस्ताव है। एसबीआई ग्राम सेवा परियोजना तीन साल के भीतर मूल लक्ष्यों को हासिल करने की उम्मीद करता है।
एसबीआई फाउंडेशन ने विभिन्न परियोजनाओं की पहचान करने पर रणनीतिक रूप से काम किया है और सीएसआर परियोजनाओं व कार्यक्रमों के लिए कई गैर-सरकारी संगठनों और एनपीओ के साथ भागीदारी की है। एसबीआई फाउंडेशन अगले चरण में सामरिक विकास के माध्यम से आगे बढऩे का इरादा रखता है। यह इसी हिसाब से सीएसआर गतिविधियों को कार्यान्वित करने के लिए योजना तैयार करता हैं।
एसबीआई-ग्राम सेवा का मिशन समुदाय की मैक्रो और माइक्रो आवश्यकताओं को विकसित करना है और इस परियोजना को आत्मनिर्भर बनाने के लिए ग्राम पंचायत और ग्रामीणों की भागीदारी बढ़ाना है।

You may also like

Leave a Comment

Voice of Trade and Development

Copyright @2023  All Right Reserved – Developed by IJS INFOTECH