Tuesday, September 27, 2022
Home एजुकेशन जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में तीन दिवसीय इंटरनेशनल कांफ्रेंस शुरू, 7 से ज्यादा देशों के 270 से ज्यादा प्रतिभागी ले रहे है हिस्सा

जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में तीन दिवसीय इंटरनेशनल कांफ्रेंस शुरू, 7 से ज्यादा देशों के 270 से ज्यादा प्रतिभागी ले रहे है हिस्सा

by Business Remedies
0 comment

बिजऩेस रेमेडीज/जयपुर
जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी के डिपार्टमेंट ऑफ मैथमेटिक्स व फैकल्टी ऑफ साइंस द्वारा आयोजित तीन दिवसीय 5वी इंटरनेशनल कांफ्रेंंस का आयोजन हुआ।
मैथमेटिकल मॉडलिंग अप्लाइड एनालिसिस एंड कंप्यूटेशन पर आयोजित इस कांफ्रेंस का उद्घाटन प्रो. विक्टर गंभीर (प्रेसिडेंट, जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी), संयोजक जगदेव सिंह (एचओडी,डिपार्टमेंट ऑफ मैथमेटिक्स, जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी) मुख्य अतिथि टर्की से प्रो. हसी मेहमत बासकोनस और विशिष्ट अतिथि प्रो. डीएस हुड्डा (जीजेयूएसटी, हिसार) ने किया। प्रो. हासी मेहमत ने विभिन्न प्रतिष्ठित पत्रिकाओं में 160 से अधिक रिसर्च पेपर प्रकाशित किए हैं व एच-इंडेक्स 52 और आई10-इंडेक्स 138 के साथ कुल साइटेशन 7655 हैं। साथ ही प्रो. डीएस हुड्डा ने 121 रिसर्च पेपर प्रकाशित किए हैं। उन्होंने 32 लोकप्रिय लेख और गणित और सांख्यिकी में 11 पुस्तकें और ‘आर्यभट्ट: जीवन और योगदान’ पर पुस्तक भी लिखी है। कांफ्रेंस में 7 से ज्यादा देशों के 270 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। इस सम्मेलन में प्रो. मार्टिन बोहनेर अमेरिका से, जॉर्डन हृस्तोव बुल्गारिया से, प्रो. एडम किलिकमैन मलेशिया से, प्रो. महमूद अब्देल- एटीइ इजिप्ट से, व अन्य गणमान्य अतिथि शामिल हुए।
जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी के वाइस चेयरपर्सन अर्पित अग्रवाल ने कहा कि जैसे साइंस के बिना जीवन अधूरा है वैसे ही मैथमेटिक्स के बिना भी हम अधूरे हैं यह हमारे जीवन को व्यवस्थित बनाता है। उन्होंने छात्रों को प्रेरित किया और कहा कि इस तरह की काफ्रेंस युवा मन को अपने विचारों का आदान-प्रदान करने में मदद करती हैं। इसके अलावा इस सम्मेलन के कनवीनर जगदेव सिंह ने कहा कि इस प्रकार के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों से नए विचार सामने आते हैं और युवाओं को सही दिशा में आगे बढऩे में मदद मिलती है। यह कनेक्टिविटी, संचार और रूपांतरण में भी मदद करती हैं।

You may also like

Leave a Comment