Home » ‘इंडस्ट्री की रफ्तार सुस्त, निवेशक निराश’

‘इंडस्ट्री की रफ्तार सुस्त, निवेशक निराश’

by admin@bremedies
0 comment

नई दिल्ली। जोरदार तेजी के बाद बाजार में निवेशक अब थोड़ी सावधानी बरत रहे हैं। दरअसल घरेलू कंपनियों का प्रदर्शन कमजोर होने की वजह से एफआईआई के निवेश में कमी आई है, ये कहना है मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के फाउंडर मोतीलाल ओसवाल और कंपनी के एमडी नवीन अग्रवाल का।
मोतीलाल ओसवाल की सालाना ग्लोबल इन्वेस्टर कॉन्फ्रेंस में सीएनबीसी-आवाज़ से हुई खास बातचीत में उन्होंने आगे कहा कि कंपनियों के नतीजों से निवेशक निराश हैं, इकोनॉमी में तो सुधार दिख रहा है लेकिन कंपनियों की हालत कमजोर है। कंपनियों का प्रदर्शन बाजार की चाल के मुताबिक नहीं है, जिसके चलते घरेलू बाजार में एफआईआई की खरीदारी घटी है। नवीन अग्रवाल मुताबिक फिलहाल बाजार में निवेशक सावधानी बरत रहे हैं, इकोनॉमी की हालत अच्छी है लेकिन इंडस्ट्री की रफ्तार धीमी पड़ गई है। आईटी और फार्मा कंपनियों के नतीजों पर दबाव देखने को मिल रहा है। हालांकि स्मॉल फाइनेंस का कारोबार बेहतर है लेकिन पीएसयू बैंकों की हालत खराब है।
मोतीलाल ओसवाल ने कहा कि रामदेव अग्रवाल ने उन्हें किताबों की अहमियत बताई। किताबों से बहुत कुछ सीखने को मिला है, किताबें उनकी सबसे बड़ी गुरु रहीं हैं। मोतीलाल ओसवाल का कहना है कि रूचि की चीजों के लिए समय निकालने की जरूरत नहीं पड़ती। बाजार से शांत और सहज रहने की सीख मिलती है। नवीन अग्रवाल का कहना है कि एनालिस्ट के लिए बिजनेस को स्टडी करना जरूरी है। कंपनियों के मैनेजमेंट से काफी कुछ सीखने को मिलता है।

You may also like

Leave a Comment

Voice of Trade and Development

Copyright @ Singhvi publication Pvt Ltd. | All right reserved – Developed by IJS INFOTECH