Home » मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी ने डाटा साइंस और इंजीनियरिंग में पाठ्यक्रम की पेशकश की

मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी ने डाटा साइंस और इंजीनियरिंग में पाठ्यक्रम की पेशकश की

by Business Remedies
0 comment

बिजनेस रेमेडीज

मणिपाल ऐकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन के भाग और भारत के प्रमुख इंजीनियरिंग संस्थान, मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी ने शिक्षा सत्र 2020-21 के लिए एक बेहतर पाठ्यक्रम की घोषणा की है। यह कॉलेज भारत में पहली बार डाटा साइंस और इंजीनियरिंग में बी-टेक प्रोग्राम की पेशकश करेगा। दिलचस्पी और योग्यता के आधार पर पाठ्यक्रम को पर्सनलाइज करने में अग्रणी संस्थान के रूप में इसका उद्देश्य सीखने का समग्र अनुभव कराना है।
पाठ्यक्रम की मुख्य खासियत डाटा साइंस, कंप्यूटेशनल मैथमेटिक्स और स्टैटिस्टिक्स में अहम सक्षमता; फाइनेंस, बिजनेस, हेल्थ केयर और मल्टी कैम्पस मॉडल में मामूली सुविज्ञता होगी तथा यह एक सेमेस्टर में छात्र की आवश्यक मोबिलिटी, पढ़ाने-सीखने की प्रक्रिया के लिए उद्योग से गठजोड़, विदेश में एक सेमेस्टर का विकल्प तथा विदेशी विश्वविद्यालयों के साथ एकीकृत मास्टर्स प्रोग्राम का विकल्प है।
इस मौके मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी, एमएएचई के डायरेक्टर, डॉ. डी श्रीकांत राव ने कहा कि आज डाटा का ज्यादा महत्व है और सच तो यह है कि डाटा साइंटिस्ट की भारी वैश्विक मांग है। इसीलिए मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी डाटा साइंस और इंजीनिरिग में बीटेक कोर्स की शुरुआत कर रही है और यह कोर्स समूह के सभी कैम्पस में शुरू होगा। ये कैम्पस, मणिपाल, जयपुर और सिक्किम में हैं। डाटा साइंस के लिए आवश्यक कौशल सेट के अनूठेपन का ख्याल रखते हुए एमआईटी ने अपने किस्म के अनूठे पाठ्यक्रम डिजाइन किए हैं। यह डाटा साइंस के विशेषज्ञों, सूचना तकनालॉजी उद्योग और इन पांच विविधतापूर्ण क्षेत्रों से लिए गए लोगों के साथ मिलकर डिजाइन किया गया है। उन्होंने आगे कहा कि प्रस्तावित बीटेक प्रोग्राम में उद्योग के परिप्रेक्ष्य में डाटा साइंस और डाटा इंजीनियरिंग पर ज्यादा जोर रहेगा और यही इसे कंप्यूटर साइंस तथा आईटी प्रोग्राम से अलग बनाता है।

You may also like

Leave a Comment

Voice of Trade and Development

Copyright @2023  All Right Reserved – Developed by IJS INFOTECH