Thursday, August 11, 2022
Home अर्थव्यवस्था वर्ष 2017-18 में सेवा कर का बकाया बढ़कर हुआ1.66 लाख करोड़ रुपये: कैग

वर्ष 2017-18 में सेवा कर का बकाया बढ़कर हुआ1.66 लाख करोड़ रुपये: कैग

by Business Remedies
0 comment

नई दिल्ली । वित्त वर्ष 2017-18 में सेवा कर का बकाया बढ़कर 1.66 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया। नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की संसद में पेश एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

इससे पिछले वित्त वर्ष 2016-17 में सेवा कर का बकाया 1.18 लाख करोड़ रुपये था। रिपोर्ट के अनुसार

केंद्रीय उत्पाद शुल्क के संदर्भ में इस अवधि में कुल बकाया 84,200 करोड़ रुपये से बढ़कर 96,496 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इसके अलावा सेवा कर के कुल बकाया के मामले में वसूली 2016-17 के 1.19 प्रतिशत से घटकर 2017-18 में 1.02 प्रतिशत पर आ गया। इसी तरह कुल बकाया में वसूली का आंकड़ा 2016-17 के 1.85 प्रतिशत से घटकर 2017-18 में 1.27 प्रतिशत रह गया। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2017-18 के अंत तक केंद्रीय उत्पाद शुल्क के मामले में 1,04,718 करोड़ रुपये के 45,749 मामले अपील में लंबित थे। यह इससे पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 3.5 प्रतिशत कम है।  सेवा कर के मामले में 2017-18 के अंत तक 1,20907 करोड़ रुपये के 43,718 मामले अपील में लंबित थे। यह इससे पिछले वित्त वर्ष की तुलना में एक प्रतिशत कम है।

 

 

You may also like

Leave a Comment