Wednesday, September 28, 2022
Home प्रादेशिक स्टोन उद्योग लदान विवाद से परिवहन और खनन मंत्री को अवगत कराया

स्टोन उद्योग लदान विवाद से परिवहन और खनन मंत्री को अवगत कराया

by Business Remedies
0 comment

कोटा। कोटा की स्टोन उद्योग वर्तमान में सरकारी नियमों से परेशानी के दौर से गुजर रहा है। सेण्ड एवं कोटा स्टोन हाडौती का प्रमुख व्यवसाय है, जिसमें करीब 5 लाख लोगो को रोजगार मिला हुआ है। सरकार ने करोड़ों रुपये की डिमाण्ड राशि स्टोन परिवहन पर निकाल दी है। जिसकी समयाविधि 31 मार्च है। इसके विरोध में खदानों में लदान बंद है और करीबन 12 दिनों से पत्थर व्यवसाय पूर्ण रूप से ठप्प पड़ा हुआ है। समस्याओं के निवारण के लिए परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास एवं खनन मंत्री प्रमोद जैन भाया को कोटा स्टोन उद्यमी एवं ट्रक ऑपरेटर का एक प्रतिनिधि मण्डल ने रूबरू करवाया।
हाड़ौती कोटा स्टोन इण्डट्रीज के अध्यक्ष आर.एन. गर्ग ने मंत्री को बताया कि उद्योग छोटे-छोटे ग्रामीण क्षेत्रों में फैला हुआ है, जिससे ग्रामीण क्षेत्र के लाखों लोगों को रोजगार भी मिलता है। उन्होने मांग की ई-रवन्ना के साथ परिवहन को अलग रखा जाये, क्योंकि खनन व्यवसाय में इस तरह की पाबंदी नहीं लगाई जा सकती। पिछले 12 दिनों से खान में कोई भी पत्थर व्यवसायी अपनी गाड़ी नही लगा रहा है।
इसी प्रकार संस्था के चेयरमैन सलाहकार बोर्ड विकास जोशी ने कहा कि उद्योग पहले ही मंदी के दौर में गुजर रहा है ऐसे में लदान विवाद से उद्योग पर विपरित असर हो रहा है। वहीं सचिव रोहित ने मंत्री के समझ उद्यमियों की समस्या बताते हुए कहा कि जनवरी 2019 से कम्पाउण्ड राशि और ऑवरलोड पर प्रति टन 1000 से बढ़ाकर 2000 रूपये पेलेेन्टी कर दी गई है। जिसके तहत 10 लाख तक की अलग से पेलेन्टी है, जिसका अभी तक कोई स्पष्टीकरण नहीं किया गया है ऐसी स्थिति में छोटे वाहन मालिक इस राशि को जमा करवाने में असमर्थ है।
वहीं ट्रक एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने राज्य सरकार की एमनेस्टी योजना का विरोध किया। जिसमें प्रति ट्रक (6 चक्का) 6 हजार से 9 हजार मासिक कर दी गई है। लेकिन यह रियायत 31 मार्च 2019 तक डिमाण्ड राशि जमा कराने तक ही मान्य है उसके पश्चातï् वास्तिविक राशि ही जमा करानी पड़ेगी।
उद्यमियों की समस्याओं से अवगत होने के बाद मंत्री ने शीघ्र इस गतिरोध को समाप्त करने का आश्वासन दिया और मुख्यमंत्री को समस्या से अवगत करवाकर उन्हें जल्द लाभ पहुंचाने का विश्वास दिलवाया। खनन मंत्री ने कहा एक प्रतिनिधि मण्डल बनाकर जल्द ही मुख्यमंत्री से भेंट की जाएगी और विवाद को खत्म कर उद्योग व्यवसाय को पुन: पटरी पर लाया जाएगा।
प्रतिनिधि मण्डल में मुन्नालाल गुर्जर, सुरेश गुर्जर, झालावाड माईनिंग एसोसिएशन के सचिव पुखराज जैन, माईन ऑनर मुजीब भाई, कोटा स्टोन स्माल स्केल एसोशिएन रामजंगमण्डी से राहुल चतर, रामगंजमण्डी ट्रक ऑपरेटर एसोसिएशन से राजेन्द्र सिंह सिसोदिया एवं झालवाड ट्रक ऑपरेटर एसो. के पदाधिकारी मौजूद रहे।

You may also like

Leave a Comment