Home प्रादेशिक व्यक्तिगत करदाताओं के लिए एक तोहफे की तरह है बजट : अशोक कजारिया

व्यक्तिगत करदाताओं के लिए एक तोहफे की तरह है बजट : अशोक कजारिया

by Business Remedies
0 comment

जयपुर। अशोक कजारिया, अध्यक्ष, फिक्की राजस्थान स्टेट काउंसिल और सीएमडी कजारिया सेरामिक्स लिमिटेड ने अंतरिम बजट 2019-20 पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह बजट व्यक्तिगत करदाताओं के लिए एक तोहफे की तरह है। उन्होंने कहा की कहा कि 5 लाख रुपये तक की आय को कर मुक्त करना एक बड़ा कदम है और साथ ही स्टैण्डर्ड डिडक्शन में 10 हजार रुपये की वृद्धि करना भी सराहनीय है। उन्होंने कहा कि ये सभी कदम बड़ी राहत प्रदान करेंगे, मांग को बढ़ाएंगे एवं समग्र आर्थिक चक्र को प्रोत्साहित करेंगे।
रणधीर विक्रम सिंह, को-चेयरमैन, फिक्की राजस्थान राज्य परिषद और संयुक्त प्रबंध निदेशक मंडावा होटल्स ने कहा कि रियल एस्टेट सेक्टर को अनसोल्ड इन्वेंटरी पर नोशनल रेंट में टैक्स छूट की अवधि को एक से दो साल करने से फायदा होगा। इसी तरह किफायती आवास के लिए 31 मार्च 2020 तक स्वीकृत परियोजनाओं के लिए एक और वर्ष के लिए आयकर अधिनियम की धारा 80-आईबीए के तहत लाभ का विस्तार करना भी इस क्षेत्र को बढ़ावा देने में मदद करेगा।
रमन कुमार शर्मा, सह-अध्यक्ष, फिक्की राजस्थान स्टेट काउंसिल और निदेशक, होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड ने प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन योजना का स्वागत किया, जिसका उद्देश्य असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों जिनकी आय 15,000 रुपये मासिक तक है को 3,000 रुपये की सुनिश्चित मासिक पेंशन प्रदान करना एक सामाजिक सुरक्षा की दिशा में बेहतरीन प्रयास है।

You may also like

Leave a Comment

Business Remedies is the Leading Hindi Financial Publication, circulating all over Rajasthan On Daily Basis.

Copyright @2021  All Right Reserved – Designed and Developed by PenciDesign