Home मुख्य न्यूज़ विदेशी मुद्रा भंडार 10.41 अरब डॉलर बढ़कर 572 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंचा

विदेशी मुद्रा भंडार 10.41 अरब डॉलर बढ़कर 572 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंचा

by Business Remedies
0 comment

बिजनेस रेमेडीज/नई दिल्ली। भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 10.417 अरब डॉलर बढ़कर 572 अरब डॉलर तक पहुंच चुका है। यह इस साल में किसी सप्ताह के दौरान सबसे बड़ी बढ़ोतरी मानी जा रही है। इससे पहले के सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा भंडार में 1.268 अरब डॉलर की कमी आई थी और यह 561.583 अरब डॉलर पर था। इसका मतलब है कि एक सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा भंडार 10.417 अरब डॉलर बढ़ा है।
साल 2021 के दौरान अक्टूबर में विदेशी मुद्रा भंडार ऑल टाइम हाई लेवल 645 अरब डॉलर पर था। हालांकि इसके बाद से सेंट्रल बैंक रुपए को बचाने के लिए कई कदम उठाए थे। इसके बाद से विदेशी मुद्रा भंडार में तेजी से गिरावट देखी गई है और यह करीब 100 अरब डॉलर तक गिर चुकी थी। वहीं अक्टूबर 2022 के दौरान विदेशी मुद्रा भंडार में एक हफ्त के दौरान सबसे अधिक 14.721 अरब डॉलर की बढ़ोतरी दर्ज हुई थी।
फॉरेन करेंसी असेट्स में भी इजाफा : केंद्रीय बैंक के साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार कुल मुद्रा भंडार का अहम हिस्सा माने जाने वाली फॉरेन करेंसी असेट्स (एफसीए) सप्ताह में 9.078 अरब डॉलर बढ़कर 505.519 अरब डॉलर हो चुकी है। डॉलर में विदेशी मुद्रा असेट में यूरो, पौंड और येन जैसे गैर अमेरिकी मुद्राओं में आई कमी और बढ़ोतरी के प्रभावों को भी शामिल किया जाता है।
आईएमएफ में रखें देश की मुद्रा में भी बढ़ोतरी : इसके अलावा स्वर्ण भंडार का मूल्य सप्ताह में 1.106 अरब डॉलर बढ़कर 42.89 अरब डॉलर हो गया है। आंकड़ों के अनुसार, स्पेशल ड्राविंग राइट्स (एसडीआर) 14.7 करोड़ डॉलर बढ़कर 18.364 अरब डॉलर हो गया है। एक सप्ताह के दौरान अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) में रखा देश का मुद्रा भंडार भी 8.6 करोड़ डॉलर बढ़कर 5.227 अरब डॉलर हो गया।

You may also like

Leave a Comment