Friday, August 12, 2022
Home मुख्य न्यूज़ स्लाइड जेजेएस का 16वां संस्करण 20 से 23 दिसम्बर को होगा आयोजित

जेजेएस का 16वां संस्करण 20 से 23 दिसम्बर को होगा आयोजित

by Business Remedies
0 comment

जयपुर। देश का नंबर वन बी2बी एवं बी2सी शो – ‘जयपुर ज्वेलरी शो’ का आयोजन ‘इनस्पायर टू क्रीएट’ फैशन स्टेट्मेंट थीम के साथ जयपुर के सीतापुरा स्थित जयपुर एग्जीबिशन एंड कन्वेंशन सेंटर में 20 से 23 दिसंबर 2019 को होने जा रहा है। जेजेएस दिसंबर शो के रूप में दुनिया भर में अपनी खास पहचान बना चुका है, जिसमें शीर्ष जवाहरात कारोबारी अपनी नयी डिजायन और बेहतरीन कारीगरी को प्रदर्शित करते हैं और देश-विदेश के सालाना कलैण्डर में जेजेएस को स्थान दिया जाता है।
जेजेएस चैयरमेन विमल चन्द सुराणा के अनुसार जयपुर के जवाहरात व्यापारियों को जेजेएस से अंतर्राष्ट्रीय जवाहरात उद्योग का एक मंच मिला है। जेजेएस एवं ब्रान्ड जयपुर के चलते हीरा-जवाहरात उद्योग में पूरी दुनिया में प्रतिष्ठित संस्थान वल्र्ड फेडरेशन ऑफ डायमंड ब्रोरसेज, डॉयमंड टेडिंग कम्पनी, विश्व में ज्वेलरी, जेमस्टोन को बढ़ावा देने वाली संस्था सीबजो , रत्न एवं आभूषण क्षेत्र की सबसे सम्मानीय संस्था जैमोलोजिकल इंस्टिट्यूट ऑफ अमेरिका , जैम एंड ज्वेलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल, ऑल इंडिया जैम एंड ज्वेलरी डोमेस्टिक काउंसिल और इन्टरनेशनल कलर स्टोन जैसे संगठन जेजेएस से किसी न किसी रूप में जुडे है। हीरे खनन एवं मार्केटिंग में बडी कम्पनी रियो टिंटों व पन्ने माणक का शीर्ष ऑक्शन हाऊस जैमफील्डस् जेजेएस से लगातार जुडा हुआ है। अपनी भूमिका में जेजेएस केन्द्र व राज्य सरकार को भी जवाहरात उद्योग के विकास के परिदृश्य पर नियमित रूप से अवगत करा रहा है।
मुख्य अतिथि एवं समारोह का उद्घाटन:
जेजेएस चैयरमेन विमल चन्द सुराणा के अनुसार गत 15 वर्षो से जेजेएस के मुख्य अतिथि रत्न एवं आभूषण क्षेत्र के विशिष्ठ शख्सियत होते हैं। इस वर्ष शुक्रवार 20 दिसम्बर को प्रात: 10 बजे जेईसीसी पर ‘जेजेएस’ के चीफ गेस्ट, टाइटन गु्रप के प्रबंध निदेशक, सी.के. वेंकटरमण होंगे। जैम एंड ज्वैलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल (जीजेईपीसी) के चेयरमेन- प्रमोद अग्रवाल व जीजेसी के चेयरमेन- अनंत पद्मनाभन ‘गेस्ट ऑफ ऑनर’ होंगे।
800 से अधिक बूथ्स होंगे: जेजेएस सचिव राजीव जैन ने बताया कि वर्ष 2003 में रश्मिकांत दुर्लभजी द्वारा शहर के एंटरटेनमेंट पैराडाइज में मात्र 67 स्टॉल्स के साथ जेजेएस की शुरूआत की गई थी। जेजेएस वर्ष 2019 में जेईसीसी में 800 से अधिक बूथ लगाए जाऐंगे। इनमें से 188 बूथ्स जेमस्टोन्स की होंगी जबकि 535 बूथ्स पर ज्वैलरी प्रदर्शित की जायेंगी। इसी प्रकार अलाईड मशीनरी, कास्ट्यूम ज्वैलरी एवं आर्टिफैक्टस की 62 बूथ्स होंगी।
राजीव जैन ने कहा कि जेजेएस में इस वर्ष ज्वैलरी सैक्शन में लगभग 72 प्रतिशत डिजाइनर बूथस् हैं, जो जेजेएस को न केवल खूबसूरत बनायेगे साथ ही विजिटर्स को नयेपन का अहसास भी होगा। इस वर्ष भी 3 बैस्ट बूथस् को ट्राफी भी दी जायेगी।
इंडोलोजी टीवी चैनल:राजीव जैन के अनुसार भारत के सबसे बड़े क्यूरेटेड ज्वैलरी एवं स्टाइल डेस्टिनेशन के टीवी चैनल इंडोलोजी द्वारा ‘जेजेएस 2019’ में लाइव टेलिकॉस्ट किया जायेगा। जेजेएस में इस बार इंडोलोजी टेलीविजन चैनल के माध्यम से भी बिक्री की जाएगी, जो इस शो की खास विशेषताओं में से एक है। चैनल के लाइव स्टूडियो के माध्यम से एग्जीबिटर्स देश भर में अपनी ज्वैलरी प्रदर्शित कर बेच सकेंगे। उल्लेखनीय है कि इंडोलॉजी की विशाल रेंज में चुनिंदा क्यूरेटेड ज्वैलरी, लाईफस्टाईल एवं घरेलू प्रोडक्टस् के 9000 से अधिक डिजाइन शामिल हैं।
पुराने और नए एग्जीबिटर्स की भागीदारी: राजीव जैन के अनुसार जेजेएस के गत संस्करण की भांति इस वर्ष भी 800 से अधिक बूथ्स हैं। बूथ्स की संख्या के साथ-साथ एरिया में भी बढ़ोतरी यह स्पष्ट दर्शाती है कि जेजेएस में ना केवल पुराने एग्जीबिटर्स लगातार जुड़े हुए हैं, बल्कि नए एग्जीबिटर्स भी जयपुर के इस ब्रान्ड में भाग लेने में गहरी रुचि दिखा रहे हैं। जेजेएस-2019 में लगभग 100 नए एक्जीबीटर्स भाग लेगे। राजीव जैन ने बताया कि अब जेजेएस को एमएसएमई द्वारा भी अनुमोदित किया गया है। एमएसएमई द्वारा रजिस्टर्ड एग्जीबिटर्स एमएसएमई के लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन कर सकते हैं।
जेजेएस-आईजे डिजायन अवार्ड फंक्शन: सह-संयोजक दिनेश खटोरिया ने बताया कि जेजेएस-आईजे ज्वैलर्स च्वॉइस डिजाइन अवार्ड्स के 9वें संस्करण का भव्य समारोह 20 दिसम्बर जेईसीसी के कन्वेंशन सेंटर में आयोजित किया जाएगा। विजेताओं को उनकी असाधारण ज्वैलरी डिजायन हेतु पुरस्कारों से नवाजा जाएगा। इस समारोह में भारतीय जवाहरात उद्योग के गणमान्य व्यापारी और कई नामी फिल्मी हस्तियॉं शामिल होंगी।
मुम्बई में 27 नवम्बर को आयोजित ग्रांड ज्यूरी मीट में भारत भर से आयी 600 डिजायन प्रविष्टियों में से 100 डिजाईन्स को शॉर्टलिस्ट किया जा चुका है। इस वर्ष के उच्चस्तीय ज्यूरी पैनल में निरूपा भट्ट, एमडी, जीआईए इंडिया एवं मिडिल ईस्ट; राजीव जैन, सैक्रेटरी जेजेएस; डॉ. ऊषा बालकृष्णन, कल्चरल कैपिटल कन्सलटेन्ट एण्ड ज्वैलरी हिस्टोरियन; शाहीन अब्बास, संस्थापक शाहीन अब्बास फाईन ज्वैलरी; सिद्धार्थ सिरोही, को-फाउन्डर एण्ड डिजाइनर (बारो); लतिका खन्ना, फाउन्डर एण्ड क्रिएटिव डाइरेक्टर लतिक; अहल्या एस, सीईओ कानकावली और तनिषा मुखर्जी, सेलिर्बिटी अभिनेत्री ने निर्णायक मंडल के रूप में पूरी प्रक्रिया में भाग लिया।
दो लाख स्कवायर फीट एरिये मेें होगा जेजेएस: जेजेएस कोषाध्यक्ष कमल कोठारी ने बताया एग्जीबिटर्स द्वारा अधिक बूथ और बेहतर सुविधाओं की लगातार मांग को देखते हुए जेजेएस शो का आयोजन 2 लाख वर्ग फुट एरिये में किया जायेगा।
माल का इंश्योरेन्स: कमल कोठारी बताया कि एक्जीबीटर्स की सुविधा को देखते हुए माल के इंश्योरेंस और अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध होगी ताकि एक्जीबीर्ट्स प्रत्येक दिन शो खत्म होने के बाद सुरक्षित ढंग से अपना माल वैन्यू पर रख सकें एवं अगले दिन अपना माल प्रदर्शन हेतु वापस ले सकें।
ऑल इंडिया जैम एंड ज्वेलरी डोमेस्टिक काउंसिल (जीजेसी) के सदस्य करेंगे विजिट: जेजेएस संयुक्त सचिव अजय काला के अनुसार जेजेएस में ऑल इंडिया जैम एंड ज्वेलरी डोमेस्टिक काउंसिल (जीजेसी) के सदस्य विशेष रूप आमंत्रित किए गए हैं। जीजेसी देश में जवाहरात के खुदरा कारोबार से जुड़े जौहरियों का शीर्ष संगठन है। जीजेसी के 50 से अधिक सदस्य जेजेएस में प्रदर्शित बूथों पर अपने शोरूम के लिए जवाहरात खरीददारी करने शो में आमंत्रित किया जाते है। जीजेसी के सदस्य जेजेएस के प्रथम दिन 20 दिसंबर को आयोजित जनरल बॉडी मीटिंग में भाग लेंगे।
दिसम्बर शो एवं 40,000 विजिटर्स: अजय काला के अनुसार ‘दिसम्बर शो’ के रूप में लोकप्रिय जेजेएस में लगभग 40,000 देशी एवं विदेशी विजिटर्स के साथ यह देश का एक महत्वपूर्ण आयोजन बन चुका है।

You may also like

Leave a Comment