Home ऑटो जगुआर टीसीएस रेसिंग ने आई-टाइप 6 रेसिंग कार की पेश

जगुआर टीसीएस रेसिंग ने आई-टाइप 6 रेसिंग कार की पेश

by Business Remedies
0 comment

बिजनेस रेमेडीज/लंदन। जगुआर टीसीएस रेसिंग ने जगुआर आई-टाइप 6 को पेश किया है। जगुआर आई-टाइप 6 को 2023 एबीबी एफआईए फॉम्र्यूला ई वल्र्ड चैंपियनशिप के लिए विशेष रूप से डिजाइन और इंजीनियर किया गया है। अब कंपनी नई ऑल-इलेक्ट्रिक मोटरस्पोर्ट्स की श्रेणी जेनरेशन 3 युग में प्रवेश कर रही है।

जगुआर आई-टाइप 6 अब तक की सबसे आधुनिक और सबसे प्रभावशाली इलेक्ट्रिक जगुआर रेस कार है। यह पहली एफआईए फार्म्युला रेस कार है, जिसमें आगे और पीछे दोनों ओर पावरट्रेन्स हैं। 250 केडब्ल्यू रीजेन को आगे और 350 के डब्ल्यू रीजेन को पीछे से जोड़ा गया है। इससे जेनरेशन 2 मॉडल की रिजेनरेटिव क्षमता दोगुनी हो जाती है और पारंपरिक रूप से लगाए जाने वाले पिछले ब्रेक की जरूरत नहीं रहती। जनवरी 2023 से शुरू होने वाली, फॉम्र्यूला ई के जेनरेशन 3 युग की कार रेस दुनिया भर में स्ट्रीट सर्किट पर सबसे ज्यादा तेज और सबसे ज्यादा रोमांचक व्हील टु व्हील रेसिंग प्रतियोगिता है। आधुनिक तकनीक की राह दिखाते हुए तीसरे जेनरेशन की जगुआर फॉम्र्यूला ई रेसिंग कार परफॉर्मेंस के क्षेत्र में नए मानक तय करेगी। यह 74 किलो हल्की और अपनी पूर्ववर्ती कारों के मुकाबले 100 किलोवॉट ज्यादा ताकतवर है। अब यह अब 321 किमी प्रति घंटे की स्पीड तक पहुंचने में सक्षम है।

जगुआर टीसीएस रेसिंग कार एक नई और अलग पहचान के साथ 2023 के सीजन में प्रवेश करेगी। कार के आकर्षक कलर पैलेट्स में कार्बन ब्लैक, सैटिन वाइट और परिष्कृत रूप की झलक देने वाले गोल्ड एसेंट्स है। जगुआर आई-टाइप 6 लिवरी की शानदार डिजाइन के साथ ड्राइवर्स मिच इवांस और सैम बर्ड के लिए दो अनोखी कारें बनाई गई हैं। फॉम्र्यूला ई में अनोखे ढंग से इस लगातार तीसरे सीजन में रेसिंग के लिए पहले इस प्रतियोगिता में भाग ले चुके ड्राइवर्स को ही रखा गया है। इससे कार रेसिंग में काफी स्थिरता आई है।  फॉम्र्यूला ई की नेक्सट जेनरेशन रेसिंग प्रतियोगिता जगुआर टीसीएस रेसिंग कार और जगुआर लैंड रोवर के लिए टेस्टिंग की असली जमीन होगी। टीम ने वर्ल्ड चैंपियनशिप में सफलता के लिए नई आधुनिक तकनीक ईजाद की है। यह इलेक्ट्रिक पावर ट्रेन, स्थिरता और सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी के लिहाज से रेसिंग से सड़क तक ड्राइवर को सुविधाएं और मजबूती प्रदान करेगी।

जगुआर आई-टाइप 6 से इनोवेशन और टेक्नोलॉजी ट्रांसफर, कंपनी को 2025 से ऑल-इलेक्ट्रिक, मॉडर्न लक्जरी ब्रैंड के रूप में जगुआर की दोबारा परिकल्पना करने में सीधे सक्षम बनाएगा। शून्य उत्सर्जन के मोटोस्पोर्ट्स की श्रेणी में यह दुनिया की सबसे स्थायी रेस कार है। इस कार के निर्माण से कंपनी ने शून्य कार्बन उत्सर्जन और प्रदूषण में कटौती की दिशा में प्रतिबद्धता जताई है। कंपनी ने अपनी रिइमेजिन रणनीति के तहत 2039 तक सप्लाई चेन, प्रॉडक्ट्स और कार्यप्रणाली में कार्बन उत्सर्जन में कटौती करने की योजना बनाई है।  

जगुआर टीसीएस रेसिंग कार 2023 के सीजन में हाल ही में मिले एफआईए थ्री-स्टार एनवॉयरमेंटल एक्रीडिएशन अवॉर्ड के साथ प्रवेश करेगी, जिसे सबसे ज्यादा संभव रेटिंग माना जाता है। इससे पर्यावरण संरक्षण के लिए टीम द्वारा अपनाई गई सर्वश्रेष्ठ नीति और प्रतिबद्धता उजागर होती है। लगातार अपनी मौजूदा निर्माण प्रक्रिया में सुधार के लिए निरंतर प्रयास कर रही है।

You may also like

Leave a Comment