Wednesday, September 28, 2022
Home बैंकिंग मुद्रा योजना में बढ़ते एनपीए पर आरबीआई ने जताई चिंता

मुद्रा योजना में बढ़ते एनपीए पर आरबीआई ने जताई चिंता

by Business Remedies
0 comment

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर एम के जैन ने छोटे कारोबारियों को कर्ज उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई मुद्रा ऋण योजना में कर्ज वसूली की बढ़ती समस्या को लेकर चिंता जताई है। उन्होंने बैंकों से कहा कि वह इस योजना के तहत दिए जाने वाले कर्ज पर बारीकी से नजर रखें। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2015 में मुद्रा कर्ज योजना की शुरुआत की थी। यह योजना सूक्ष्म एवं लघु उद्यमों को जरूरी वित्तपोषण सुविधा उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई है। जैन ने यहां भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) के सूक्ष्म वित्त पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मुद्रा योजना पर हमारी नजर निरंतर बनी हुई है।
इस योजना से जहां एक तरफ देश के कई लाभार्थियों को गरीबी रेखा से ऊपर उठाने में बड़ी मदद मिली है, वहीं इसमें कई कर्जदारों के बीच गैर-निष्पादित राशि के बढ़ते स्तर को लेकर कुछ चिंता भी है। उन्होंने बैंकों को सुझाव दिया है कि वह इस तरह के कर्ज देते समय दस्तावेजों की जांच-परख के स्तर पर कर्ज किस्त के भुगतान की क्षमता पर भी गौर करें और इस तरह के कर्ज का उनकी पूरी अवधि तक बारीकी से निगरानी करें।

You may also like

Leave a Comment